गंगा के जलस्तर में वृद्धि जारी; 33 बाढ़ चौकियों की व्यवस्था ठीक करने का आदेश, जल्द ही कंट्रोल रूम भी बनाया जाएगा

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में बाढ़ की वजह से गंगा से सटे इलाकों में स्थिति लगातार खराब होती जा रही है। गंगा के साथ अन्य नदियों का जल स्तर तेजी से बढ़ रहा है। गंगा का जल स्तर 68.17 मीटर पहुंच गया है। चेतावनी बिंदु 70.26 है। बाढ़ की वजह से लोग अब धीरे धीरे पलायन के लिए मजबूर हो रहे हैं। इस बीच प्रशासन की तरफ से दावा किया जा रहा है कि प्रभावितों को हर संभव मदद पहुंचाई जा रही है।

डीएम कौशल राज शर्मा ने स्वास्थ,पशुपालन, राजस्व विभाग को अलर्ट कर दिया है। जिले में 33 बाढ़ चौकियों को चिन्हित कर व्यवस्था को ठीक रखने को कहा गया है। जल्द ही कंट्रोल रूम में बनाने की बात कही गयी हैं। शहरी और ग्रामीण इलाकों में लेखपालों को चौकियों पर साफ सफाई ,शारीरिक दूरी, सैनिटाइजेशन की पूरी व्यवस्था की जिम्मेदारी दी गई है।

बाढ की वजह से जलम्ग्न घाट।
बाढ की वजह से जलमग्न घाट।

वहीं दशाश्वमेध घाट पर होने वाली विश्व प्रसिद्ध आरती का स्थल भी 11वीं बार बदलना पड़ा हैं। वरुणा नदी के पास पुराने पुल इलाके की ओर पानी बढ़ रहा हैं। यहां हर साल लोगों को पलायन करना पड़ता है।लोग धीरे धीरे उसी मंजर के करीब आ रहे हैं। सनुल्ला ने बताया कि बाढ़ का जल स्तर 70 मीटर के करीब पहुंचते पानी पुराना पुल समेत कई इलाकों में घुसने लगता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
वाराणसी में गंगा नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। यहां अधिकांश घाट पूरी तरह से डूब गए हैं। हालांकि प्रशासन की तरफ से बाढ़ चौकियां स्थापित करने का दावा किया जा रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला