बिकरु कांड के आरोपियों पर लग सकती है रासुका, अब तक इस मामले में 35 लोगों की हो चुकी है गिरफ्तारी

उत्तर प्रदेश में कानपुर के चौबेपुर थाने के अंतर्गत 2 जुलाई को देर रात हुए बिकरु कांड में आठ पुलिसवाले शहीद हो गए थे। इस घटना का मास्टर माइंड और हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे भी बाद में एसटीएफ के हाथों मारा गया था। इस मामले में अब तक 35 आरोपी पकड़ जा चुके हैं। आरोपियों को पुलिस किसी भी कीमत में कोर्ट से कड़ी से कड़ी सजा दिलवाने की कवायद में जुटी है। इसके लिए अब राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगाने की तैयारी की जा रही है। आरोपियों की फाइल तैयार कर रासुका की प्रक्रिया को लगभग पूरा कर लिया गया है।

बिकरु कांड को लेकर पुलिस एक-एक कदम बड़े ही सावधानी के साथ आगे बढ़ा रही है। वह ऐसी कोई भी कमी मुकदमे में नहीं छोड़ना चाहती जिससे जेल में बंद आरोपियों को आराम से जमानत मिल सके। पुलिस सूत्रों की माने तो चौबेपुर पुलिस ने उच्च अधिकारियों के निर्देश पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका)लगाने की तैयारी हो रही है। चौबेपुर पुलिस ने सभी 35 आरोपितों की रासुका से संबंधित फाइल तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि जैसे-जैसे आरोपी कोर्ट में जमानत की अर्जी डालेंगे पुलिस कोर्ट में मजबूत पक्ष रखते हुए जमानत खारिज कराने का पूरा प्रयास करेगी। मुकदमे में रासुका लगने के बाद किसी भी आरोपी को आसान नहीं होगा कि वह कोर्ट आसानी से जमानत ले सके।

अब तक हुई 35 की गिरफ्तारी
बिकरु कांड में सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के मामले में पुलिस ने अब तक 23 आरोपितों को गिरफ्तार करके जेल भेजा है और 12 लोगों ने न्यायालय में आत्मसमर्पण किया था। गिरफ्तार हुए आरोपियों में शांति देवी,तत्कालीन थाना प्रभारी विनय तिवारी और चौकी प्रभारी केके शर्मा की ओर से न्यायालय में जमानत की अर्जी लगाई गई थी। लेकिन कोर्ट ने तीनों अर्जियां निरस्त कर दी थीं। इसके बाद से किसी भी आरोपी ने अभी तक कोई भी नई अर्जी जमानत की दाखिल नहीं की है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
बिकरु कांड के मास्टरमाइंड विकास दुबे को पुलिस ने उज्जैन से पकड़ा था। हालांकि उसे वापस लाते समय कानपुर के पास एसटीएफ की गाड़ी पलट गई। विकास ने भागने की कोशिश की लेकिन एसटीएफ ने उसे मार गिराया था। फाइल फोटो

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला