किसी क्लास में 10 तो कहीं तीन छात्र आए; सैनिटाइज और थर्मल स्क्रीनिंग के बाद मिली एंट्री, खाने-पीने की चीजें साझा करने पर पाबंदी

वाराणसी समेत यूपी के सभी जिलों में सोमवार से कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूल खोल दिए गए। कोरोना संक्रमण के चलते सरकार ने मार्च माह में स्कूल बंद कर दिए थे। वाराणसी में जिला प्रशासन ने स्कूल प्रबंधन और प्रधानाचार्यों के साथ बैठक कर गाइडलाइन का पालन करने की हिदायत दी थी। इसका असर पहले दिन देखने को मिला है। स्कूलों में हैंड सैनिटाइजेशन की व्यवस्था थी तो बच्चों का तापमान भी चेक किया गया। हालांकि, आज पहले दिन सीमित संख्या में छात्र स्कूल पहुंचे।

जेपी मेहता इंटर कॉलेज में पढ़ाते टीचर।

कचहरी स्थित जेपी मेहता इंटर कॉलेज में आज से दो पालियों में स्कूल खोला गया है। पहली पाली में सुबह 8.50 बजे से 11.50 बजे तक और दूसरी पारी में दोपहर 12.20 से 3.20 बजे तक कक्षा 9 से 12वीं तक की कक्षाएं चलेगी। स्कूलों के निरीक्षण को अलग-अलग टीमें भी बनाई गई है। प्रिंसिपल नीतीश अवस्थी ने बताया कि छात्रों की उपस्थिति न के बराबर रही है। कक्षा 10 में केवल 10 और नौ में केवल 3 छात्र ही उपस्थित हुए। कोविड 19 के सभी नियमों का पालन किया जा रहा है।

अभिभावकों के सहमति पत्र के आधार पर मिल रही एंट्री

नीतीश अवस्थी ने बताया कि सहमति सबसे महत्वपूर्ण है। सभी क्लास रूम को सैनिटाइज किया गया गया है। साथ ही बच्चों के हाथ धुलने की व्यवस्था की गयी है। सोशल डिस्टेंसिंग पर खास ध्यान दिया जा रहा है।प्रवक्ताओं की टीम निगरानी के लिए बनायी गयी है।

दो पालियों में चलेगी कक्षाएं

प्रिंसिपल ने कहा कि 50 प्रतिशत छात्र एक पाली में ही आएंगे। छात्रों का गेट पर ही थर्मल स्क्रीनिंग भी की जा रही है। बिना मास्क के क्लास रूम में जाने की अनुमति नहीं है। खाने पीने की कोई सामग्री साझा करने पर पाबंदी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह फोटो वाराणसी की है। यहां जेपी मेहता इंटर कॉलेज में हाथों को सैनिटाइज कराया गया।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला