बागपत में अफसरों से पूछे बिना दरोगा ने बढ़ाई दाढ़ी; तीन बार की चेतावनी को अनसुना किया, एसपी ने निलंबित किया

उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में तैनात दरोगा इंतसार अली को बिना विभाग की अनुमति दाढ़ी रखना भारी पड़ा है। पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने दरोगा इंतसार को निलंबित कर दिया है। दरअसल, एसपी ने दरोगा को तीन बार दाढ़ी कटवाने के लिए हिदायत दी थी। साथ ही कहा गया था कि यदि उन्हें दाढ़ी रखना है तो इसके लिए विभाग से अनुमति लेना होगा। कारण बताओ नोटिस भी जारी किया था। इसके बावजूद उन्होंने न तो कोई जवाब दिया, न ही दाढ़ी कटवाई। दरोगा की इन दिनों रमाला थाने में तैनाती थी।

कुछ भी बोलने से बचते नजर आए दरोगा, सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस
दरोगा इंतसार अली सहारनपुर जिले के रहने वाले हैं। एसपी के एक्शन के बाद दरोगा कुछ भी बोलने से बचते नजर आ रहे हैं। सूत्रों की मानें तो दरोगा इंतसार ने दाढ़ी रखने के लिए आईजी ऑफिस में अनुमति के लिए आवेदन किया था, लेकिन यह अब तक स्वीकार नहीं किया गया और अब ये कार्रवाई हो गई। हालांकि सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर एक बहस भी शुरू हो गई है कि कप्तान की यह कार्रवाई गलत है। वहीं, कुछ लोगों का कहना है कि पुलिस की नौकरी में नियम कायदों का पालन करना जरूरी होता है। दरोगा ने ड्रेस कोड का पालन नहीं किया। इसीलिए उन पर सही कार्रवाई की गई है।

एसपी अभिषेक सिंह बोले...
एसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि पुलिस मैनुअल के अनुसार, सिख समुदाय के पुलिसकर्मियों को छोड़कर कोई भी अन्य अधिकारी या कर्मचारी दाढ़ी नहीं रख सकता और अगर कोई रखना चाहता है तो उसे प्रशासन से अनुमति लेनी होगी। लेकिन दारोगा इंतसार अली बिना अनुमति के ही दाढ़ी रख रहे थे, जिसकी शिकायत मिल रही थी। काफी समझाने और नोटिस देने के बावजूद भी उन्होंने दाढ़ी नहीं कटवाकर अनुशासनहीनता दिखाई है। इस पर दरोगा के खिलाफ कार्रवाई की गई है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
दरोगा इंतसार अली।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला