अंतिम संस्कार से पहले एफआईआर करने पर अड़े परिजन; मनाने में जुटा प्रशासन, चाचा पर ही लगाया हत्या का आरोप

उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले में मंगलवार रात संदिग्ध अवस्था में तालाब में मिले चार बच्चों के शवों के मामले में परिजनों ने हत्या का मामला दर्ज कराए जाने की मांग को लेकर शवों का अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया । इधर प्रशासन परिजनों को मनाने में लगा हुआ हैं।

दरअसल, मंगलवार की शाम 6 बजे थाना पुराकलां के ग्राम झांवर के मजरा मतेरा में दो भाइयों के चार बच्चों के शव घर से कुछ ही दूरी पर मछली पालन के लिए बनाए गए तालाब में संदिग्ध संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। पुलिस ने चारों शवों का आज पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। लेकिन परिजनों सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने शवों को गांव ले जाकर अंतिम संस्कार करने से इंकार करते हुए कहा कि उनके बच्चों की मौत पानी मे डूबने से नहीं हुई हैं, उन्हें जहर देकर मार डाला व शवों को तालाब में फेंक दिया।

बच्चे के पिता ेन चाचा पर ही लगाया आरोप

मृतक रविन्द्र ब्रजेन्द्र के पिता मुकुंदी ने अपने चाचा पर ही जमीनी विवाद के चलते हत्या कर शवों को फेंकने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। इधर मौके पर उपस्थित उपजिलाधिकारी मो कमर व क्षेत्राधिकारी तालबेहट परिजनों को समझाने में लगे हुए हैं और कार्रवाई का आश्वासन दे रहें हैं।

वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चार बच्चों के तालाब में डूबने पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए प्रशासन से आर्थिक सहायता राशि देने के निर्देश दिए थे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को समझाती पुलिस। मंगलवार देर शाम एक ही परिवार के चार बच्चों के शव तालाब में उतराते मिले थे।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला