PDA ने सपा नेता और हिस्ट्रीशीटर के अवैध निर्माण पर चलवाया बुल्डोजर, ‌15 साल पहले यह आलीशान फार्म हाउस बनाया था

प्रयागराज में माफियाओं और अपराधियों की अवैध संपत्तियों के ध्वस्तीकरण की प्रक्रिया लगातार जारी है। इस कड़ी में शुक्रवार को सपा नेता एवं पूर्व पार्षद मो. जावेद उर्फ पप्पू गंजिया का करीब तीन बीघे में बना आलीशान फार्म हाउस प्रयागराज विकास प्राधिकरण (PDA) की टीम ने ढहा दिया। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था का खासा इंतजाम किया गया था।

नैनी कोतवाली क्षेत्र के गंजिया मोहल्ले का रहने वाला पप्पू गंजिया उर्फ मो. जावेद सपा नता है। उस पर हत्या, हत्या की सुपारी, रंगदारी, भूमि कब्जा समेत गैंगस्टर एक्ट के मिलाकर कुल 19 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। गत जून माह में उसे 60 हजार की रंगदारी के मुकदमें में पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

हाल ही में जमानत पर रिहा हुआ है हिस्ट्रीशीटर

हाल ही में वह जमानत पर रिहा हुआ है। नैनी कोतवाली के हिस्ट्रीशीटर पप्पू गंजिया का फार्म हाउस गांव के बाहर करीब तीन बीघे में आलीशान बना हुआ था। जिसमें जिम सेंटर से लेकर ऐशोआराम के हर सामान मौजूद थे।जिसकी कीमत करीब 10 करोड़ रुपये बताई जा रही है। बताते है ‌कि करीब 15 साल पहले यह आलीशान फार्म हाउस बनाया गया था।

फार्म हाउस का नक्शा पास नहीं था
अपराधियों एवं माफियाओं के खिलाफ चल रही कार्रवाई की वजह से पप्पू गंजिया की संपत्ति भी ढहाने की चर्चा काफी दिनों से थी। शुक्रवार को प्रयागराज विकास प्राधिकरण के जोनल अफसर आलोक पांडेय व सत शुक्ला भारी पुलिस बल के साथ गंजिया गांव पहुंचे और करीब आधा दर्जन जेसीबी मशीनों को लगाकर पूरे फार्म हाउस को गिरा दिया। इस कार्रवाई में करीब पांच घंटे का समय लगा। जोनल अफसर आलोक पांडेय ने बताया कि फार्म हाउस बिना नक्शा पास कराए बनाया गया था। भूमि कैसी है, इसकी जांच कराई जा रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
प्रयागराज प्राधिकरण ने शुक्रवार को एक हिस्ट्रीशीटर के अवैध निर्माण को गिरा दिया। बताया जार हा है कि इसमें ऐशोआराम के हर सामान मौजूद थे।जिसकी कीमत करीब 10 करोड़ रुपये बताई जा रही है।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला