इटारसी रेलवे स्टेशन पर रखे शव की आंखों को चूहों ने कुतर दिया, आगरा के युवक की ट्रेन में हो गई थी मौत

इटारसी रेलवे स्टेशन पर रखे युवक के शव की आंखों को चूहों ने कुतर दिया। ट्रेन में सफर के दौरान आगरा के युवक की मौत हो गई थी। परिजन ने जीआरपी पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए शिकायत की है।

गुरुवार रात बेंगुलरु से नई दिल्ली जा रही कर्नाटक एक्सप्रेस के कोच एस-9 की बर्थ नंबर 17 पर जितेंद्र सिंह पुत्र भीकम सिंह (33) निवासी नागला ताज थाना बरहान आगरा अचेत अवस्था में मिले थे। रात 9:30 बजे ट्रेन प्लेटफॉर्म नंबर एक पर आई थी। डॉक्टर्स ने जांच के बाद युवक को मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने लाश को जीआरपी थाने के बाहर चबूतरे पर रखवा दिया। मोबाइल से मिले नंबर पर परिजन से संपर्क किया। शुक्रवार को परिवार वालों के आने के बाद शव का पीएम कराया गया और शव सौंप दिया गया। परिजनों ने देखा कि उनके बेटे की दोनों आंखें खराब हो चुकी हैं, जबकि ट्रेन से उतारने के बाद की फोटो में दोनों आंखें सही सलामत दिख रही हैं।

युवक बेंगलुरु में एक कंपनी में जॉब करता था। वह घर जा रहा था, लेकिन रास्ते मे उसकी संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी।

जिम्मेदार बाेले- लापरवाही नहीं, ये इत्तेफाक है

जीआरपी का कहना है कि परिसर में शव रखने के लिए रेलवे की तरफ से इंतजाम नहीं हैं। इस वजह से हमेशा शव बाहर ही रखते हैं, लेकिन यह पहली बार हुआ कि चूहों ने आंखें कुतर दी हैं। जीआरपी टीआई बीएस चौहान ने कहा कि युवक की बेंगलुरु में नौकरी चली गई थी, इस वजह से वह तनाव में था। शराब पीकर वह कोच में बैठा और उसके बाद सो गया। कुछ यात्रियों ने बताया कि पहले युवक ने कोच में भी हंगामा किया था। शव सुरक्षित रखा गया था, लेकिन इत्तेफाक से आंखों के पास चूहों ने या किसी अन्य जानवर ने कुतर दिया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
चूहे की प्रतीकात्मक तस्वीर

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला