30 फीट गहरे बोरवेल में फंसे 4 साल के मासूम को बाहर निकाला गया, 21 घंटे मुसीबत में रही नन्ही जान, अस्पताल में भर्ती

उत्तर प्रदेश के महोबा जिले में जिला प्रशासन और SDRF की करीब 46 सदस्यीय टीम ने 30 फीट गहरे बोरवेल में गिरे 4 साल के घनेंद्र को आज सुबह आठ बजे सुरक्षित बाहर निकाल लिया है। उसे तत्काल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। बुधवार दोपहर घनेंद्र अपनी मां के साथ खेत गया था, वहीं वह खेलते समय करीब 11 बजे खुले बोरवेल में गिर गया था। बच्चे को बोरवेल से बाहर निकालने में करीब 21 घंटे की कड़ी मशक्कत करनी पड़ी है।

बोरवेल में फंसे घनेंद्र को जीवित रखने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने सिलेंडर से ऑक्सीजन दी थी।

यह है पूरा मामला

कुलपहाड़ थाने के बुधौरा गांव निवासी भागीरथ कुशवाहा बुधवार को गेहूं के फसल की सिंचाई कर रहे थे। खेत में उनकी पत्नी पत्नी व चार का बच्चा घनेंद्र उर्फ बाबू भी था। मां खेत में काम करने लगी। इसी दौरान घनेंद्र खेलने के दौरान बोरवेल के पास पहुंच गया और उसके अंदर गिर गया। बच्चे के रोने की आवाज सुनकर उसकी मां ने शोर मचाया। इसके बाद गांव के लोगों ने पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों को घटना की सूचना दी। कुलपहाड़ थाने की पुलिस और राजस्व अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू के लिए दो JCB मशीनें मंगवायी। बोरवेल के पास खुदाई किया गया। बोरवेल के ऊपर सिलेंडर रख कर अंदर ऑक्सीजन की सप्लाई की गई।

लेकिन सफलता नहीं मिलने पर लखनऊ से 18 सदस्यीय SDRF की टीम महोबा बुलाई गई। पूरी रात रेस्क्यू ऑपरेशन चला। गुरुवार सुबह बच्चे को बाहर निकालकर तत्काल अस्पताल में भर्ती करवाया गया। बच्चे की हालत गंभीर है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह फोटो महोबा में बोरवेल में फंसे घनेंद्र की है। उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला