सेल्फी लेते समय गंगा नदी में नाव पलटी; मल्लाहों ने बचाई 7 लोगों की जान, रेस्क्यू में जुटी NDRF की टीम

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में रविवार की शाम गंगा नदी में नाव पलट गई। हादसे में सात लोगों को बचाया गया है। 5 लोग लापता बताए जा रहे हैं। नाव में 12 लोग सवार थे। लापता लोगों की खोजबीन के लिए एनडीआरएफ की टीम बुलाई गई है। स्‍थानीय लोगों के अनुसार नाव में सेल्‍फी लेने के चक्‍कर में ये हादसा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, छुट्टी का दिन होने के कारण कुछ लोग नाव से घूमने के लिए निकले थे। इसी दौरान भदैनी घाट के सामने नाव सवार लोगों के सेल्फी लेने की होड़ के कारण नाव अनियंत्रित होकर एक तरफ पलट गई। कई लोग पानी में गिर गए। चीख पुकार मचने पर कई मल्लाह पानी में कूदे और सात लोगों को बचाकर दूसरी नावों पर चढ़ाया गया। मामले की जानकारी मिलते ही अधिकारी और पुलिस फोर्स भी मौके पर पहुंच गई। भेलूपुर पुलिस ने गोताखोरों की मदद से तलाश जारी रखी है। कुछ लोगों के अनुसार नौ लोग ही सवार थे।

रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है
वाराणसी के एसपी सि‍टी वि‍कास चंद्र त्रि‍पाठी ने बताया कि तुलसी घाट के पास ये हादसा हुआ है। एक नावि‍क के अनुसार सभी लोगों को बचा लि‍या गया है, लेकि‍न इस बात की भी आशंका व्‍यक्‍त की जा रही है कि‍ कुछ लोग अभी भी डूबे हो सकते हैं, जि‍से देखते हुए हमारी ओर से रेस्‍क्‍यू आपॅरेशन चलाया जा रहा है। एसपी सि‍टी के अनुसार जो लोग बचाए गये हैं उनमें से ज्‍यादातर स्‍थानीय हैं, चूंकि‍ सभी के सभी अभी पूरी तरह से बदहवास हैं।

मौके पर पहुंचे आला अफसर
गंगा में हादसे के बाद आनन-फानन जिले के आला अफसरों ने मोर्चा संभाल लिया। एनडीआरएफ, पुलिस और जल पुलिस के बाद एसपी सिटी और एसएसपी ने भी मौके पर पहुंचकर घटना स्थल का जायजा लिया।बताया जा रहा है कि नाव चालक लगातार नाव पर सवार युवक-युवतियों से सेल्फी न लेने और एक जगह बैठे रहने की बात कर रहा था, लेकिन उसकी बातों पर किसी ने ध्‍यान नहीं दिया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
हादसे के बाद मल्लाहों ने सात लोगों की जान बचा ली। बाकी की तलाश में एनडीआरएफ की टीम जुटी हुई है।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला