गाय हांकने को लेकर दो पक्षों में विवाद, डंडे से पीट-पीटकर अधेड़ की हत्या; फरार आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस

उत्तर प्रदेश के कानपुर में सोमवार को गाय को हांकने को लेकर दो पक्षों में मारपीट हो गई। इस दौरान सिर पर गंभीर चोट लगने के कारण एक अधेड़ की मौत हो गई। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने पड़ताल की है। तनाव को देखते हुए पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। आरोपी का अभी तक पुलिस को सुराग नहीं लगा है।

कल्लू।- फाइल फोटो

बिहार का रहने वाला था मृतक

गोविंद नगर थाना क्षेत्र के सीटीआई नहर किनारे महादेव नगर बस्ती है। बस्ती में स्थित इंद्रपाल यादव के मकान में मूलरूप से बिहार के दरभंगा का रहने वाला कल्लू उर्फ रमन गुप्ता परिवार के साथ किराए पर रहते हैं।परिवार में पत्नी माया, तीन बेटियां पूजा (15), ज्योति (13), आरती (11) व नौ साल का बेटा शिवम है। आज कल्लू का इलाके में चट्टा (डेयरी) चलाने वाले आयुष यादव उर्फ बऊवा की गाय खुल गई और सड़क पर घूमने लगी।

घर के बाहर बच्चों को खेलते देख कल्लू ने गाय बांधने की बात कहते हुए एक डंडा गाय को मार दिया। इस बात से चट्टा संचालक बऊवा भड़क गया और गाय को डंडा मारने की बात को लेकर कल्लू से गाली गलौच करते हुए उस पर डंडे से हमला कर दिया। सिर पर डंडा लगने से कल्लू जमीन पर गिर गया। यह देख आरोपी चट्टा संचालक मौके से भाग निकला। आवाज सुनकर परिजनों व पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी।मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल कल्लू को हैलट अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस अधीक्षक दक्षिण दीपक भूकर, क्षेत्राधिकारी वीके पांडेय ने गोविंद नगर पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने परिजनों से पूछताछ करते हुए शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम भेजा।

क्या बोले एसपी दक्षिण?

पुलिस अधीक्षक दक्षिण दीपक भूकर ने बताया कि मामूली बात पर चट्टा संचालक द्वारा डंडे से हमला कर एक अधेड़ की हत्या कर दी गई है। आरोपी फरार हो गया है। उसकी तलाश में पुलिस टीमें लगाकर घटना में अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह फोटो कानपुर की है। पुलिस ने मौके पर पड़ताल की।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला