PM मोदी को लेकर कांग्रेस ने BJP पर साधा निशाना, कहा- हार से बचने के लिये कराया गया उनका दौरा

उत्तर प्रदेश में MLC वाराणसी खंड शिक्षक व स्नातक कोटे की सीट पर सदस्यों के लिए मंगलवार को मतदान शुरू हुआ। काशी में स्नातक सीट के लिए 73 और शिक्षक के लिए 21 बूथ बनाये गए हैं। 1 बजे तक खंड शिक्षक 32.00 %, स्नातक- 11.00 % मतदान हुआ। इस बीच, कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे ने आरोप लगाया जब चुनाव प्रचार बंद हो चुका था। तब प्रधानमंत्री मोदी एक बड़े इवेंट को करते हैं। दो जनसभाओं को संबोधित करते हैं। साथ ही लोकार्पण का कार्य भी करते हैं। इससे यही साबित होता है कि चुनाव को बचाने के लिए उनका काशी दौरा जानबूझकर कराया गया।

सपा के पूर्व मंत्री ने भी लगाया आरोप

सपा के पूर्व मंत्री सुरेंद्र पटेल ने कहा भाजपा चुनाव जीतने के लिए कुछ भी कर सकती है। जब आचार संहिता लगी है। ऐसे में काशी का दौरा सीधे चुनाव से ही जुड़ा है। देश के सर्वोपरी प्रधानमंत्री मोदी का निर्णय ठीक नही था। जनता जो देव दीपावली घाटों पर जाकर देखती थी, वो घरों में ही रुक गए।

स्थानीय लोगों को भी दौरे से आपत्ति रही

सिगरा निवासी अशोक सिंह ने बताया कि दशाश्वमेध घाट पर आरती देखने गया था। पुलिस वालों से 6 बजे शाम को रोक दिया। सुरक्षा का हवाला देकर नही जाने दिया। वहीे बिरदो पुर निवासी कमलेश चंद्र ने कहा पूरे विश्व ने उत्सव के साथ आध्यात्मिक काशी को देखा। इससे किसी को दिक्कत नही होनी चाहिए।

स्नातक कोटे से 22 उम्मीदवार मैदान में हैें

केदार नाथ सिंह (भाजपा), आशुतोष सिन्हा (सपा) कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी नागेश्वर सिंह के बीच कड़ी टक्कर है। दरअसल कांग्रेस समर्थित संजीव सिंह में मैदान में निर्दलीय लड़ रहे हैं। वाराणसी खंड में स्नातक के लिए 47488 व शिक्षक मतदाता 7209 है। शिक्षक कोटे की सीट पर 12 उम्मीदवार मैदान में है। सपा के केवल लाल बिहारी यादव है। बाकी प्रत्याशी निर्दलीय चुनाव लड़ रहे है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
वाराणसी में एमएलसी चुनाव के तहत चल रहा है मतदान।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला