सेल्फी लेने के लिए ब्यास नदी में उतरा UP से घूमने आया युवक, पैर फिसलकर डूबा; 8 घंटे बाद मिला शव

हिमाचल प्रदेश में बनाला के पास शुक्रवार को एक युवक ब्यास नदी में डूब गया। हादसा उस वक्त हुआ, जब उत्तर प्रदेश का बताया जा रहा है यह युवक सेल्फी लेने के लिए नदी में उतरा था। पत्थर पर खड़ा होकर जैसे ही फोटो क्लिक करने की कोशिश की, अचानक उसका पैर फिसला और वह पानी में गिरकर वह तेज बहाव में बह गया। पर्यटक की तलाश के लिए नौकायन दल को बुलाया गया। आखिर करीब 8 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद उसका शव बरामद कर लिया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के आगरा का 25 वर्षीय चांद मोहम्मद अपने अन्य दोस्तों के साथ मनाली घूमने गया हुआ था। वापसी में शुक्रवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे ये लोग बनाला के पास चाय पीने के लिए रुके। पास ही बहती ब्यास नदी को देखकर दोस्तों को फोटो खींचने का मन हुआ। इनमें से चांद मोहम्मद करीब से सेल्फी लेने की कोशिश में नदी के किनारे थोड़ा गहराई में एक पत्थर पर खड़ा हो गया। फोटो क्लिक करने की कोशिश के दौरान अचानक उसका पांव फिसला और वह ब्यास नदी में गिर गया।

साथी को गिरता देख एक अन्य व्यक्ति ने उसे बचाने की कोशिश की, लेकिन वह ऐसा करने में कामयाब नहीं हो पाया। इसके बाद आनन-फानन में घटना की सूचना पुलिस को दी गई तो पुलिस टीम तुरंत मौके पर पहुंची। टीम ने नदी में गिरे पर्यटक की तलाश के लिए नौकायन दल को भी बुलाया। शाम करीब साढ़े 6 बजे उसका शव उस जगह से 500 मीटर दूर एक पत्थर के नीचे से बरामद किया गया, जहां खड़े होकर वह फोटो खींच रहा था।

इस बारे में DSP अनिल पटियाल ने बताया कि पर्यटक के ब्यास में गिरने की सूचना मिली है। उसे ढूंढने के लिए प्रयास शुरू किए गए। नौकायन टीम को भी बुलाया गया, वहीं आसपास के लोगों की भी मदद ली गई। आखिर 8 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने मृतक युवक चांद मोहम्मद का शव बरामद कर लिया। फिलहाल शव को मोर्चरी में भिजवाकर आगे की जरूरी कार्रवाई की जा रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
मंडी में ब्यास नदी के किनारे पुलिस और रेस्क्यू टीम के लोग नदी में बहे युवक की तलाश के लिए पहुंचे

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला