UP प्रभारी राधा मोहन सिंह का एक हफ्ते में लखनऊ का दूसरा दौरा आज, CM आवास पर होगी बैठक

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह शनिवार को एक सप्ताह में लखनऊ तीन बजे दूसरी बार आ रहे हैं। दोपहर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पर बैठक है। माना जा रहा उत्तर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियों की समीक्षा बैठक हैं। राधा मोहन सिंह एक हफ्ते में लखनऊ के दूसरे दौरे पर शनिवार तीन बजे यहां पहुंचेंगे।

बुधवार को ही लखनऊ में बैठक करने वाले राधा मोहन सिंह आज दोपहर बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही उनके आवास पर भाजपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव, संगठन महामंत्री सुनील बंसल तथा भाजपा के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।

भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश अब विधानसभा चुनाव 2022 की जोरदार तैयारी में है। संगठन के साथ प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह की यह दूसरी बैठक है। भाजपा संगठन से जुड़े लोग बताते हैं कि 2022 की तैयारियों में भाजपा के कार्यकर्ता और मंत्रिमंडल की टीम को लगाया गया है। साथ ही पंचायत चुनाव में इस बार सिंबल पर चुनाव भाजपा लड़ सकती है, इस को लेकर बैठक में चर्चा और फैसला किया जा सकता है।

शीघ्र हो सकता हैं मंत्री मंडल का विस्तार, छह चेहरे आ सकते हैं नए
माना जा रहा है कि अब शीघ्र ही होने वाला योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल का विस्तार अंतिम होगा। इसके बाद सरकार तेजी से विकास के कामों को अंजाम देगी। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्रिमंडल में छह से सात नये चेहरों को मौका मिल सकता है। योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान तथा कमला रानी वरुण के निधन के कारण दो जगह खाली हैं, जबकि अन्य नये चेहरों को भी मंत्रिमंडल में मौका देने की तैयारी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
राधा मोहन सिंह एक हफ्ते में लखनऊ के दूसरे दौरे पर शनिवार तीन बजे यहां पहुंचेंगे। वह शाम को सीएम योगी से मुलाकात करेंगे जिसमें मंत्रिमंडल के विस्तार पर भी चर्चा होने की अटकलें लगाई जा रही हैं।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला