नेपाल के रास्ते UP में दाखिल हो सकते हैं सीरिया में ट्रेनिंग लेकर आए PFI के 12 सदस्य, सभी केरल के रहने वाले

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के 12 सदस्य अपने नापाक मंसूबों के साथ नेपाल बॉर्डर से उत्तर प्रदेश में घुसपैठ करने की फिराक में है। ये इनपुट खुफिया एजेंसियों ने UP पुलिस के साथ साझा किया है। इसके बाद पीलीभीत से लेकर बिहार बॉर्डर तक नेपाल से जुड़े जिलों में पुलिस अलर्ट मोड पर है। खुफिया एजेंसियों ने आशंका जताई है कि PFI के ये 12 सदस्य सीरिया से ट्रेनिंग लेकर किसी खास मकसद से घुसपैठ करने वाले हैं। यह भी आशंका है कि ये सभी सिद्धार्थनगर जिले की सीमा से भारतीय सीमा में दाखिल हो सकते हैं।

हाथरस कांड में सामने आया था केरल कनेक्शन
बता दें कि हाल ही में हाथरस कांड में PFI की भूमिका का खुलासा भी हुआ था। मथुरा में मांट टोल प्लाजा पर चार आरोपी पकड़े गए थे जिनके पास से भड़काऊ साहित्य बरामद हुए थे। चारों में एक केरल का रहने वाला है। सभी मथुरा जेल में बंद हैं। खुफिया एजेंसियों की तरफ से जारी अलर्ट में सभी 12 सदस्यों के केरल का निवासी होने का जिक्र है। ये इनपुट प्रदेश की सुरक्षा के दृष्टिकोण से काफी अहम मानी जा रही है। इनपुट के मुताबिक, PFI सदस्यों द्वारा नेपाल सीमा पर ठिकाना बनाकर घुसपैठ की योजना बनाई जा रही है।

अब तक 130 सदस्य हो चुके हैं गिरफ्तार
उत्तर प्रदेश में CAA-NRC के विरोध के बाद 2019 के दिसंबर से अब तक PFI के 130 सदस्यों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इनमें करीब 15 सक्रिय सदस्य शामिल हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार, पश्चिमी यूपी के बाद पूर्वांचल में PFI के सदस्यों के सक्रिय होने की सूचना मिली है। खुफिया एजेंसी के सूत्रों के अनुसार, उत्तर प्रदेश में हुए कुछ हिंसक और CAA-NRC के विरोध में PFI के सदस्यों का शामिल होना पाया गया था। PFI ने उत्तर प्रदेश में बीते एक साल में अपनी सक्रियता बढ़ाई है। प्रदेश के बाराबंकी जिले में PFI के कुछ सक्रिय सदस्य बीते 3 माह में बने हैं, जिनको लेकर सूचनाएं एकत्रित की जा रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह फोटो श्रावस्ती जिले में नेपाल बॉर्डर की है। यहां पुलिस और एसएसबी खास सतर्कता बरत रही है।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला