24 घंटे के अंदर दूसरा पुलिस एनकाउंटर: शातिर लुटेरे के पैर में लगी गोली, हत्या और लूट के एक दर्जन मामले में था वांछित

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में यमुनापार के नैनी कोतवाली क्षेत्र के अरैल बांध रोड पर गुरुवार की रात करीब 9 बजे पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गयी। पहले बदमाशों ने पुलिस टीम पर गोलियां चलाई। जवाब में पुलिस ने भी बदमाशों पर फायरिंग की। इस दौरान एक बदमाश के पैर में पुलिस की गोली लगी जिसके बाद वह गिर गया जबकि दूसरा बाइक से भागने में कामयाब हो गया। सूचना पर पहुंचे आलाधिकारियों ने घायल बदमाश को अस्पताल भेज दिया।

जानकारी के मुताबिक गुरुवार की रात नैनी पुलिस और एसओजी टीम गश्त पर थी। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि पुराने पुल की ओर से दो बदमाश बाइक से जा रहे हैं। पुलिस और एसओजी टीम ने बदमाशों का पीछा किया तो बदमाशों ने पुलिस टीम पर दो राउंड फायरिंग कर दी। इसके बाद पुलिस ने बचाव के लिए गोली चला दी जिसमें एक बदमाश के बाएं पैर में गोली लग गयी और वह गिर पड़ा जबकि दूसरा भागने में कामयाब रहा।

पैर में गोली लगने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया बदमाश

एसओजी टीम ने सूचना आलाधिकारियों को दी। जिसके बाद मौके पर एसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित, सीओ करछना राकेश शुक्ला, डिप्टी एसपी शुभम तोड़ी, एसपी क्राइम आशुतोष मिश्रा फोर्स के साथ पहुंच गए। अधिकारियों ने घायल बदमाश को अस्पताल भेज दिया।

24 घंटे के अंदर दूसरा एनकाउंटर

एसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित ने बताया कि कौंधियारा में बुधवार को हुए मुठभेड़ के दौरान बदमाश सलमान का साथी अशोक पासी पुत्र परसू निवासी मेजा बठिंडा फरार हो गया था। पुलिस को सूचना मिली थी कि वो पुराने पुल की तरफ जा रहा है। इसके बाद पुलिस टीम ने पीछाकर दौड़ाया। मुठभेड़ में बदमाश के पैर में गोली लगी है जिसे अस्पताल भेजा गया है। इसके पास से 315 का एक तमंचा और दो कारतूस मिला है। इसका एक साथी भागने में कामयाब रहा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यूपी के प्रयागराज में पुलिस के साथ मुठभेड़ के दौरान एक बदमाश के गोली लगने से घायल हो गया। बताया जा रहा है कि वह कई मामलों में वांछित था।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला