बुलंदशहर में बाइक से शराब की हो रही होम डिलीवरी, मामला बढ़ा तो 25 पौव्वे के साथ 1 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में चार दिन पहले अवैध शराब के सेवन से 6 लोगों की मौत हुई थी। इसके बाद भी पुलिस प्रशासन संजीदा नहीं दिख रहा है। शराब माफिया सरेआम अवैध शराब की बिक्री की मुंह चिढ़ा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला शिकारपुर में सामने आया है। बाइक पर शराब बेचने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद हरकत में आई पुलिस ने आरोपी को ढूंढ निकालकर गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के कब्जे से शराब के 25 पौव्वे और बाइक भी पुलिस ने बरामद की है।

ठेके से लाकर शिकारपुर में बेच रहा था शराब
गिरफ्तार आरोपी का नाम आकाश चौहान की है। आकाश चौहान रविवार की रात शिकारपुर नगर में खुलेआम बाइक पर शराब के पौव्वे बेच रहा था। विकास वीडियो में शराब का एक पौव्वा 100 रुपये में बेचता देखा जा रहा है। रेट को लेकर विकास की खरीदारों से बहस भी होती दिख रही है। पास में खड़े किसी शख्स ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद आरोपी की खोजबीन शुरू की गई तो शिकारपुर पुलिस ने कुछ ही घंटे में आरोपी की गिरफ्तार कर लिया। यह शराब विकास एक ठेके से लाया था और क्षेत्र में ओवर रेटिंग कर बेच रहा था।

6 मौतों के बाद आबकारी व पुलिस कर्मियों पर गिरी थी गाज

बीते गुरुवार की शाम सिकंदराबाद थाना क्षेत्र के जीत गढ़ी गांव में अवैध शराब पीने से छह लोगों की मौत हो गई थी। जबकि 18 से अधिक लोग बीमार हुए थे। इस मामले के मुख्य आरोपी कुलदीप को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया था। वह शराब माफिया है।

बुलंदशहर के SP संतोष कुमार ने लापरवाही के आरोप में थाना प्रभारी समेत 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया था। वहीं, सरकार ने जॉइंट एक्साइज कमिश्नर राजेश मणि त्रिपाठी और डिप्टी एक्साइज कमिश्नर सुरेश चंद्र पटेल को हटाया। दोनों अफसरों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के भी निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा जिला आबकारी अधिकारी संजय कुमार त्रिपाठी भी हटाए गए। आबकारी इंस्पेक्टर प्रभात वर्धन, सिपाही रामबाबू , सिपाही श्रीकांत सॉन्ग और सलीम अहमद को सस्पेंड किया गया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला