लखनऊ के 6 अस्पतालों में वैक्सीनेशन ट्रायल शुरू, KGMU में चल रहा ड्राई रन अभियान, आला अधिकारी कर रहे सेंटरों का निरीक्षण

देश भर में शनिवार को को-वैक्सीन ड्राई ट्रायल हो रहा है। लखनऊ के पीजीआई, केजीएमयू और सहारा हॉस्पिटल समेत छह जगह ड्राई ट्रायल शुरू हुआ। सुबह 10 बजे से राजधानी के 6 प्रमुख हॉस्पिटल में डॉक्टरों की विशेष टीम और स्टाफ की मौजूदगी में शुरू हुआ। तीन अलग-अलग एरिया में ड्राई रन के लिए सेंटरों को बांटा गया। 14 दिन के कोविड प्रोटोकॉल के पालन के साथ वैक्सीनेशन करवाने पहले बरती जाने वाली सावधानियों को बताया गया है।

फिलहाल केजीएमयू के वेटिंग रूम में वैक्सीनेशन लिए बैठे लोगों के चेहरे पर थोड़ी चिंता देखी गई लेकिन वह सन्तुष्ट थे यह हमारी जिम्मेदारी भी हैं। केजीएमयू के नोडल ऑफिसर डॉक्टर निशांत वर्मा का कहना है कि वैक्सीनेशन ट्रायल अभी तक सफलतापूर्वक चल रहा है।

छह हॉस्पिटल में चल रहा ट्रायल
लखनऊ के केजीएमयू, लोहिया संस्थान, पीजीआई, सहारा हॉस्पिटल और सीएचसी मॉल और मलिहाबाद पर ट्रायल हो रहा है। एक कमरे में आईडी की जांच, दूसरे कमरे में वैक्सिनेशन और तीसरे कमरे में 30 मिनट तक ऑब्जरवेशन के लिए बनाया गया हैं। लखनऊ के ऐशबाग सेंटर से कड़ी सुरक्षा में सेंटरों तक वैक्सीन पहुंचाई गई। विशेष वैक्सीन वाहनों में 4 से 8 डिग्री सेल्सियस तापमान के बीच वैक्सीन रखा गया है।आईएलआर से वैक्सीन को विशेष बॉक्स में सेंटर तक वैक्सीन बनाया है। एक-एक हॉस्पिटल में 25-25 प्रशिक्षित कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है। केजीएमयू वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी निशांत वर्मा ने बताया, "यहां 50 लोगों को वैक्सीन देने की तैयारी की जा रही है।

वैक्सीनेशन सेंटर पर गृह विभाग की नजर
उत्तर प्रदेश की राजधानी के 6 सेंटरों पर हो रहे वैक्सीनेशन ट्रायल की व्यवस्था और सुरक्षा को लेकर विशेष निगरानी रखी जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी खुद नजर बनाए हुए तो गृह विभाग ने जिला अधिकारी समेत अन्य पुलिस प्रशासन को व्यवस्था के लिए लगा रखा है। डीएम लखनऊ अभिषेक प्रकाश ने बताया कि वैक्सीनेशन ट्रायल शुरू हो गया है। हमने कर्मचारियों से और वैक्सीनेशन ट्रायल कराने आए लोगों से बातचीत की अभी तक कोई भी अव्यवस्था या शिकायत सामने नहीं आई है।

स्वास्थ्य मंत्री बोले- ट्रायल से पता चलेगा इलाज कैसे किया जाएगा
जय प्रताप सिंह स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि,हम लखनऊ में 6 जगह वैक्सीन का ड्राई रन किया जा रहा है। इसमें केजीएमयू, SGPGI , RML, सहारा और 6 जगह किया जाएगा। इसमें दर्शाया जाएगा कि मरीज़ को इंजेक्शन कैसे दिया जाएगा, ऑब्जर्वेशन कमरे में कैसे रखेंगे, अगर कोई रिएक्शन होता है तो इलाज़ कैसे किया जाएगा। वहीं सीएम योगी कहा कि,अफवाहों पर ध्यान न दें।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
उत्तर प्रदेश के केजीएमयू में वेक्सीनेशन का ड्राई रन शुरू हो गया है।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला