हत्यारों को तलाश नहीं पाई पुलिस; साथियों में आक्रोश, घेरकर बदमाशों ने मारी थी गोली

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के छात्र की शनिवार रात गोली मारकर हत्या कर दी गई। वह स्कूटी से घर जा रहा था। घर से एक गली पहले ही हमलावरों ने उसे निशाना बनाया था। मृतक छात्र साल 2018 में जमालपुर इलाके में हुई शाहबेज की हत्या में साजिश रचने का आरोपी था। वह जमानत पर बाहर था। इस हत्या को हुए 20 घंटे से ज्यादा वक्त बीत चुका है। लेकिन, पुलिस अभी हमलावरों का सुराग नहीं लगा सकी है। इससे छात्रों में आक्रोश है।

दोस्त को उसके घर छोड़कर लौट रहा था छात्र

थाना क्वार्सी क्षेत्र के जाकिर नगर गली नंबर पांच निवासी आतिफ खान (25) AMU में बीए ऑनर्स फाइनल इयर का छात्र था। शनिवार रात करीब 10:30 बजे वह स्कूटी से जकरिया मार्केट में दोस्त जैद को छोड़कर घर आ रहा था। तभी उसे पहले से ही खड़े चार हमलावरों ने रोक लिया और ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। आतिफ के पीठ व कंधे में दो गोली लगीं। इससे वह नीचे गिर पड़ा, तभी हमलावर भाग गए। गोली चलने की आवाज सुनकर मोहल्ले के लोग व स्वजन पहुंच गए। आतिफ को गंभीर हालत में लेकर जेएन मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंचे, जहां उसने कुछ देर बाद दम तोड़ दिया।

छात्रों ने मेडिकल कॉलेज में किया हंगामा

छात्र की हत्या की खबर पाकर AMU के तमाम छात्र मेडिकल कॉलेज पहुंच गए। छात्रों ने आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर हंगामा किया। यह देख पुलिसकर्मियों ने उन्हें शांत कराया। SP सिटी कुलदीप सिंह गुनावत, CO सिविल लाइन अनिल समानिया, इंस्पेक्टर क्वार्सी छोटे लाल भी पुलिस के साथ घटनास्थल के बाद मेडिकल कॉलेज पहुंच गए।

उन्होंने घर वालों से घटना की जानकारी ली। पुलिस ने हमलावरों की तलाश में इलाके में लगे CCTV फुटेज को खंगाला है। हालांकि अंधेरे के चलते हमलावरों की पहचान नहीं हो सकी है। पुलिस सर्विलांस टीम की मदद से तलाश में जुटी है। आतिफ की हत्या से परिवार बिखर गया है। पिता समेत सभी स्वजन का रो-रोकर बुरा हाल है। आतिफ दो बहनों में इकलौता था। बेटा की हत्या से बेसुध हुए पिता की कई बार तबीयत भी खराब हुई।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
छात्र आतिफ।- फाइल फोटो

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला