रायबरेली में शव रखकर परिजनों ने हाइवे किया जाम; पुलिस पर भट्ठा मालिक को बचाने का लगाया आरोप

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में शनिवार को हादसे में दो किशोरों की मौत हो गई थी। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा तो रविवार को हंगामा शुरू हो गया। परिजनों ने रायबरेली-कानपुर मुख्य मार्ग पर शवों को रखकर जाम लगा दिया। इससे लंबा जाम लग गया। पुलिस अफसरों ने कड़ी मशक्कत के बाद लोगों को शांत कराया। परिजनों का आरोप है कि एक स्थानीय भट्ठा मालिक की ट्रैक्टर ट्राली से टक्कर लगने के बाद दोनों की मौत हुई। लेकिन पुलिस पेड़ से टक्कर बताकर भट्ठा मालिक को बचा रही है। दोनों मृतक किशोरों के मोबाइल भी सेमरी चौकी प्रभारी ने जब्त कर लिए हैं। फिलहाल ट्रैक्टर ड्राइवर के खिलाफ FIR दर्ज की गई है।

शनिवार सुबह हुई थी हादसे में मौत

दरअसल, खीरों थाना क्षेत्र के पूरे लाल साहब गांव के मजरे गहिरी निवासी सुदीप (17 साल) और सूरज (16 साल) शनिवार को बाइक पर सवार होकर कहीं जा रहे थे। लेकिन बिंदाखेड़ा गांव के मोड़ पर हुए हादसे में मौत हो गई थी। पुलिस ने कहा कि बाइक पेड़ से टकराई थी। देर रात पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शवों को उनके परिवार वालों के सुपुर्द कर दिया। लेकिन रात में ही परिवार वालों को पता चला कि सुदीप व सूरज की मौत पेड़ से टक्कर नहीं बल्कि ट्रैक्टर की टक्कर से हुई थी।

इस घटना से नाराज परिजनों ने करीब 500 से अधिक ग्रामीणों के साथ सेमरी चौराहे पर शव रखकर प्रदर्शन किया। आरोप लगाया कि ट्रैक्टर ड्राइवर व भट्ठा मालिक को बचाने के लिए पुलिस झूठी कहानी गढ़ रही है। सूचना पाकर प्रभारी निरीक्षक राजेश सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। लेकिन लोगों ने पुलिस पर घायल बच्चों को देर से अस्पताल पहुंचाने व रिश्तेदारों से अभद्रता करने का आरोप लगाते हुए प्रभारी निरीक्षक की बात नहीं मानी।

महिलाओं ने शव को उठाने से रोका

इसके बाद एसडीएम लालगंज जीतलाल सैनी व सीओ लालगंज इंद्रपाल सिंह मौके पर पहुंचे। करीब साढ़े तीन घंटे तक चली वार्ता के बाद परिजनों ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के बाद प्रदर्शन समाप्त किया। इसी दौरान शव को सड़क से हटाने के लिए लोडर लाया गया। लेकिन तब तक महिलाओं ने मोर्चा संभाल लिया। शव को फिर उठाने से पुलिस को रोक दिया। इस दौरान महिलाओं व पुलिस के बीच झड़प हुई। मामला तूल पकड़ते देख अन्य थानों की फोर्स ने मोर्चा संभाला। पुलिस ने परिजनों के माध्यम से दोनों शव को लोडर में रखवाया। इसके बाद अंतिम संस्कार के लिए घाट की तरफ रवाना हुए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह फोटो रायबरेली की है। यहां हादसे के बाद पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला