बोले- राम को काल्पनिक कहने वाले अब कह रहे राम तो सत्य हैं, भगवान करे उनकी सद्बुद्धि बनी रहे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को गोरखपुर में कहा कि जो लोग कहते थे राम तो काल्पनिक हैं। वे अब कहने लगे हैं कि राम तो सत्य हैं। यही परिवर्तन है। राम के अस्तित्व को नकारने और राम भक्तों पर गोलियां चलाने वालों को आज रामभक्तों की ताकत का अहसास हो गया है। कारसेवा के समय यही तो हम कहते थे। कारसेवकों और राम जन्मभूमि का विरोध मत करो। अंतत: हम विजयी भी हुए। दरअसल योगी का ये कटाक्ष सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर था।

अखिलेश यादव ने शनिवार को अयोध्या के संतों से मुलाकात की थी। अखिलेश ने कहा था कि अयोध्या के विविध धर्मों के धर्म गुरुओं का स्नेह सानिध्य और आशीर्वाद मिला। सपा के सरकार में आने पर हम अयोध्या नगर निगम के अंतर्गत आनेवाले सभी धार्मिक स्थलों और नागरिकों को ‘कर मुक्त’ करेंगे जिससे प्रदेश में रामराज्य की अवधारणा फलीभूत हो। हम जन कल्याण के सच्चे दीये जलाएंगे।

योगी बोले- मंदिर आंदोलन सकारात्मक था

योगी ने कहा कि 5 अगस्‍त 2020 को अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों राम जन्‍म भूमि का शिलान्यास होना, इस बात को साबित करता है कि मंदिर के लिए चला आंदोलन एक सकारात्मक आंदोलन था। इस आंदोलन का विरोध करने वाले लोग नकारात्‍मक सोचते थे और इसलिए उस आंदोलन को बदनाम करते थे। जब हर एक क्षेत्र में वे फेल हो चुके हैं, तो फिर वही राग अलापने का काम कर रहे हैं। पहले राम को मानते नहीं थे। अब कहने लग गए हैं कि राम तो सत्‍य है। भगवान करे सद्बुद्धि उन्‍हें हमेशा बनी रहे। भारत प्रदेश के लोग भी इसी सोच के साथ आगे बढ़ सकें।

CM ने 575 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात दी

गोरखपुर क्लब में आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 575 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। योगी ने कहा कि विकास हम सबकी प्राथमिकता होनी चाहिए। 5 फरवरी 1922 को चौरीचौरा की घटना घटी थी। चौरीचौरा शहीद स्थल के जीर्णोद्धार का लोकार्पण किए हैं। उस काल खंड में 100 वर्ष पूरे होने पर वहां भव्य कार्यक्रम हो और लोग जान सकें कि कौन से लोग थे जो वहां शहीद हुए? हमें आजादी की त्याग और बलिदान से मिली। फिर कोई ऐसी स्थिति न आए की हम फिर से गुलाम हों।


योगी ने कहा कि भारत पहला देश है, जिसने कोविड-19 की दो वैक्सीन लांच कर दी है। आज भारत आत्म निर्भर भारत बनने की ओर अग्रसर है। दुनिया में एक वैक्सीन आई है और हमने 2 वैक्सीन लांच कर दी है। प्रधानमंत्री और सभी वैज्ञानिकों को बधाई देता हूं।

प्रतियोगी छात्रों को मिलेगी घर बैठे कोचिंग

योगी ने पूर्ववर्ती सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले सरकार आती थी तो जमीन के कब्जा का अभियान चलता था। आज कोई गुंडा इस तरह का काम नहीं करेगा। नहीं तो दूसरे लोक का रास्ता उसके लिए खुल जाएगा। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रशासनिक और पुलिस सेवा के लिए तैयारी करने वाले प्रतियोगी छात्रों के लिए हर जिले में एक सॉफ्टवेयर लांच करने जा रहे हैं। जिससे उसे तैयारी के लिए बाहर नहीं जाना पड़े।

सांसद रवि किशन ने CM के काम को सराहा
इस अवसर पर गोरखपुर के सांसद रविकिशन ने कहा कि योगी आदित्यनाथ 2022 में फिर मुख्‍यमंत्री बन रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि कल मैं देख रहा था कि पूर्व मुख्‍यमंत्री (अखिलेश यादव) का एक बयान आया है। जब विपक्षी देख रहे हैं कि 2022 में भी हार रहे हैं तो कह रहे हैं कि वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। ये क्‍या है? 24 करोड़ की आबादी में महज 13 हजार पॉजिटिव केस हैं। एक प्रतिशत मौत हुई है। लंदन, यूरोप, अमेरिका लॉकडाउन की तरफ चला गया है। कभी-कभी सोचता हूं कि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ जैसा मुख्‍यमंत्री कहां मिलेगा? जिन्होंने अपने पिता को अग्नि नहीं दिया। उन्‍होंने कहा कि मैं योगी आदित्यनाथ का नाम नीचे नहीं जाने दूंगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला