अखिलेश के बदले सुर, बोले- गरीबों के टीकाकरण के लिए तारीख घोषित हो; मायावती ने वैज्ञानिकों को सराहा

कोरोना वैक्सीन को लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के सुर 20 घंटे भीतर बदल गए हैं। अखिलेश यादव ने सोशल मीडिया के जरिए केंद्र सरकार से गरीबों के लिए टीकाकरण की तारीख तय करने की मांग की है। इससे पहले शनिवार को अखिलेश यादव ने कहा था कि हम भाजपा की राजनीतिक वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। सपा की सरकार वैक्सीन मुफ्त लगवाएगी।

इससे इतर उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा अध्यक्ष मायावती ने कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दिए जाने के कदम को सराहा है। मायावती ने स्वदेशी वैक्सीन की सफलता पर वैज्ञानिकों को बधाई भी दी है।

पहले क्या कहा था? अब क्या बोले अखिलेश
दरअसल, शुक्रवार को सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड के इमरजेंसी यूज के जिए ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने मंजूरी दी थी। इसके बाद शनिवार को अखिलेश यादव ने कहा कि हमें वैज्ञानिकों की दक्षता पर पूरा भरोसा है। मगर भाजपा की ताली-थाली वाली अवैज्ञानिक सोच व भाजपा सरकार की वैक्सीन लगवाने की उस चिकित्सा व्यवस्था पर भरोसा नहीं है, जो कोरोनाकाल में ठप्प-सी पड़ी रही है। हम भाजपा की राजनीतिक वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। सपा की सरकार वैक्सीन मुफ्त लगवाएगी। अखिलेश के इस बयान के बाद सियासत शुरू हो गई। अखिलेश की पार्टी के एक एमएलसी ने तो इसके टीकाकरण से नपुंसक होने की संभावना जता डाली। इससे हर तरफ अखिलेश यादव की आलोचना होने लगी।

लेकिन अब अखिलेश यादव का कहना है कि कोरोना का टीकाकरण एक संवेदनशील प्रक्रिया है इसीलिए भाजपा सरकार इसे कोई सजावटी-दिखावटी इवेंट न समझे और अग्रिम पुख्ता इंतजामों के बाद ही शुरू करे। ये लोगों के जीवन का विषय है अत: इसमें बाद में सुधार का खतरा नहीं उठाया जा सकता है। गरीबों के टीकाकरण की निश्चित तारीख घोषित हो।

##

देश में अब दो-दो वैक्सीन

कोरोना वैक्सीन के लिए देश के लोगों का इंतजार खत्म हो गया है। भारत बायोटेक की स्वदेशी कोवैक्सिन और सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड के इमरजेंसी यूज के लिए ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने मंजूरी दे दी है। वहीं जायडस कैडिला हेल्थकेयर की जायकोव-डी को फेज-3 ट्रायल का अप्रूवल मिला है। DCGI वी जी सोमानी ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह जानकारी दी। सोमानी ने कहा कि कुछ साइड इफेक्ट जैसे- हल्का बुखार, दर्द और एलर्जी हर वैक्सीन में कॉमन होते हैं, लेकिन ये दोनों वैक्सीन 110% सुरक्षित हैं। वैक्सीन से नपुंसक होने जैसी बातें बकवास हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
बसपा प्रमुख मायावती और अखिलेश यादव।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला