वाराणसी में जो डॉक्टर कोरोना वैक्सीन को लेकर डाटा उपलब्ध नहीं कराते उन पर FIR दर्ज होगा, पुलिस विभाग के 6929 लोगो का ब्यौरा मिला

DM कौशल राज शर्मा ने सोमवार शाम को कैम्प कार्यालय सभागार में कोविड-19 जिला टास्क फोर्स और अधिकारियों संग बैठक किया। जिसमें उन्होंने कोविड वैक्सीन के वैक्सीनेशन के लिए ड्राई रन की तैयारियों की समीक्षा की। वैक्सीन के स्टोरेज से लेकर वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीन लगाने तक का वास्तविक रिहर्सल मंगलवार को किया जायेगा। जो प्राइवेट अस्पताल डाटा उपलब्ध नहीं कराते वहां के डाक्टरों पर एफआईआर होगा।

जिले की 6 वैक्सीनेशन सेंटर 3 शहरी व 3 ग्रामीण इलाकों में है

DM कौशल राज शर्मा ने बताया कि पं दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल पाण्डेयपुर में जिले का एक रीजनल वैक्सीन स्टोरेज बनाया गया है। यहां से वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीन कोल्ड चेन के साथ भेजी जायेगी। जिले की 6 वैक्सीनेशन सेंटर 3 शहरी व 3 ग्रामीण पर वैक्सीन पुलिस सुरक्षा में भेजी जायेगी। पुलिस विभाग द्वारा 6929 लोगों का डाटा उपलब्ध करा दिया गया है।

डाटा न देने पर प्राइवेट अस्पताल बंद कर कार्रवाई होगा

DM ने सभी केंद्रीय व राज्य के विभागों के मैनुअल डाटा आज ही मंगाने का निर्देश CMO को दिया। जिले के समस्त प्राइवेट अस्पतालों से आज ही डाटा उपलब्ध कराने का निर्देश देते हुए कहा कि जो अस्पताल डाटा उपलब्ध नहीं कराते, तो उनको बंद कराने की कार्यवाही की जाय और उन डाक्टरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा कर गिरफ्तार किया जाय।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
DM कौशल राज शर्मा ने बैठक कर वैक्सीनेशन डाटा फीडिंग कराने के लिए निर्देश दिया है।

Comments

Popular posts from this blog

कोतवाली में हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही महिला, कोतवाल ने मारी लात, वीडियो वायरल

सेना के जवान के खिलाफ पाकिस्तान के लिए जासूसी के सबूत मिले, UP ATS की टीम कर रही कड़ी पूछताछ

अभिभावकों से वसूली पूरी फीस, कर्मचारियों का वेतन काट उन्हें निकाला